मुख्य पृष्ट arrow भजन संग्रह arrow दुनियाँ चले ना
दिनमान लघु पंचांग
मुख्य पृष्टपंचांगचौघडियाँमुहूतॅआरती संग्रहव्रत त्योहारभजन संग्रहराशिफलखोजेंअन्य जानकारीहमें सम्पर्क करें
Saturday, October 21 2017
मुख्य मैन्यु
मुख्य पृष्ट
पंचांग
चौघडियाँ
मुहूतॅ
आरती संग्रह
व्रत त्योहार
भजन संग्रह
राशिफल
खोजें
अन्य जानकारी
हमें सम्पर्क करें
दुनियाँ चले ना पी.डी.एफ़ छापें ई-मेल

Image 

दुनियाँ चले ना श्रीराम के बिना,

रामजी चले ना हनुमान के बिना .....३

 जब से रामायण पढ ली है इक बात मैने समझ ली हैं,

रावण मरे ना श्रीराम के बिना लंका जले ना हनुमान के बिना.......दुनियाँ चले ना..

 लक्ष्मण का बचना मुश्किल था कोन बुटी लाने के काबिल था

लक्ष्मण बचे ना श्रीराम के बिना बुटी मिले ना हनुमान के बिना.......दुनियाँ चले ना..

सीता हरण की कहानी सुनो बनवारी मेरी जुबानी सुनो

 वापस मिले ना श्री राम के बिना पता चले ना हनुमान के बिना.......दुनियाँ चले ना..

सिहांसन पे बैठे  हैं श्रीराम जी , चरणों में बैठे है हनुमान जी

 मुक्ती मिले ना श्रीराम के बिना, भक्ति मिले ना हनुमान के बिना.......दुनियाँ चले ना..

 दुनियाँ चले ना श्रीराम के बिना, रामजी चले ना हनुमान के बिना .....३

 
< पिछला   अगला >
© 2017 दिनमान लघु पंचांग