मुख्य पृष्ट arrow भजन संग्रह arrow अरे ओ छोरा नन्द जी का
दिनमान लघु पंचांग
मुख्य पृष्टपंचांगचौघडियाँमुहूतॅआरती संग्रहव्रत त्योहारभजन संग्रहराशिफलखोजेंअन्य जानकारीहमें सम्पर्क करें
Wednesday, November 14 2018
मुख्य मैन्यु
मुख्य पृष्ट
पंचांग
चौघडियाँ
मुहूतॅ
आरती संग्रह
व्रत त्योहार
भजन संग्रह
राशिफल
खोजें
अन्य जानकारी
हमें सम्पर्क करें
अरे ओ छोरा नन्द जी का पी.डी.एफ़ छापें ई-मेल

Image

अरे ओ छोरा नन्द जी का

फागण में फाग खिला जा रे.....

गढ गोकुल का कुंवर कन्हैया

 अब बरसाणे में आजा रे......अरे ओरे छोरा नन्द जी का

 राधेजी से प्रीत लगी हैं सो

सो प्रीत निभजा रे......अरे ओ छोरा नन्द जी का

 झोली भर गुलाल की ल्याई

 मुख चोरस लिपटा जा रे......अरे ओ छोरा नन्द जी का

 केसर जल से होद भरी हैं सो

सो ड़ुबकी लगा जा रे......अरे ओ छोरा नन्द जी का

भानुगढ में भांग घुटी हैं

गहरा नशा चढा जा रे......अरे ओ छोरा नन्द जी का

"चंद्रसखि "भज बाल कृष्ण छवि

पी जा और पीला जा रे......अरे ओ छोरा नन्द जी का

अरे ओ छोरा नन्द जी का फागण में फाग खिला जा रे......

 
< पिछला   अगला >
© 2018 दिनमान लघु पंचांग